कैंपस की ज़िंदगी

You are here

मौलाना आज़ाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (मैनिट) की स्थापना वर्ष 1960 में हुई। इसके आगमन के समय से ही यह उच्च शिक्षा हेतु एक प्रतिष्ठित संस्थान रहा है एवं उत्कृष्ट जीविका और विश्वव्यापी पहचान युक्त गुण प्रावीण्य छात्रों का निर्माण कर रहा है।

संस्थान का मनमोहक एवं रमणीय 650 एकड़ भूमि का परिसर है जो कि बाऊंड्री वाल एवं रिंग रोड़ से घिरा हुआ है। परिसर की आधारभूत संरचना प्रशासनिक एवं शैक्षणिक भवनों, कार्यशालाओं, सामुदायिक केंद्र एवं छात्रों और कर्मचारियों के अनुकूल आवासीय क्षेत्र से मिलकर बनी है। सामान्य संरचना के अतिरिक्त इसमें प्राथमिक सुविधाएँ जैसे डाक घर, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, बच्चों के लिए एक स्कूल, प्राथमिक चिकित्सालय, परिसर मंदिर, एक हज़ार व्यक्तियों की बैठक क्षमता वाला सभागार और विस्तृत खुले मैदान युक्त खेल परिसर सम्मिलित हैं।

यहाँ छात्रों को अति उच्चस्तरीय पाठ्यक्रम, श्रेष्ठ शिक्षक गण, सुसज्जित प्रयोगशालाएँ, पुस्तकालय और असीम सुविधाओं के रूप में सर्वोत्तम अवसर प्राप्त होते हैं जिससे कि वे शोध एवं विकास के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ बन सकें। शिक्षा के अलावा, यहाँ पर ई.डी सेल, सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस (जी आई ऐस एंड रिमोट सेंसिंग ), आई एस टी ई (इंडियन सोसाइटी फॉर टेक्निकल एजुकेशन) और विज़न जैसे संगठन प्रचुर मात्रा में हैं जो कि प्रत्येक छात्र के पल्लवित विचारों के प्रवर्धन हेतु पर्याप्त स्थान प्रदान करतीं हैं। शोध आदि क्रियाकलापों एवं अध्यापन हेतु अत्यंत वैज्ञानिक एवं रचनात्मक तकनीक का उपयोग किया जाता है। प्रतिवर्ष मैनिट, शिक्षकों और छात्रों द्वारा शोध प्रकाशन, प्रोजेक्ट कार्यों, अनुमोदनों (फेलोशिप) एवं औद्योगिक प्रदर्शनों द्वारा प्राप्त यश और गौरव से समृद्ध होता है।

स्नातक स्तर पर हमारे संस्थान में रसायन, जनपद, संगणक विज्ञान, विद्युत, ऋणावेश एवं संचार, धातुकर्म एवं यांत्रिकी शाखाओं में बी. टेक. कार्यक्रम उपलब्ध हैं। इन कार्यक्रमों के लिए छात्र जे.ई.ई. द्वारा चयनित किए जाते हैं। सामान्यतः ये देश के विभिन्न स्थानों से सर्वोत्कृष्ट छात्र होते हैं। हमारे संस्थान में उपरोक्त सभी अभियांत्रिकी शाखाओं में एम .टेक कार्यक्रम भी उपलब्ध हैं। एम. टेक हेतु छात्र संपूर्ण भारत में आयोजित होने वाली “गेट” नामक परीक्षा द्वारा चुने जाते हैं।

एम. बी. ए. और एम. डिजाईन में प्रवेश क्रमशः जीमैट और सी. ई. ई. डी. द्वारा दिया जाता है। हमारे यहाँ वस्तुतः उपरोक्त सभी शैक्षिणिक क्षेत्रों में आकर्षक पी. एच. डी. कार्यक्रम भी उपलब्ध हैं।

मैनिट शोध के अनेक क्षेत्रों में अपनी उत्कृष्टता का प्रदर्शन कर चुका है, कुछ पर दृष्टि डालें जैसे यह “आज़ाद” नामक प्रोजेक्ट के अंतर्गत अपनी स्वयं का उपग्रह विकसित कर रहा है। एन. आई. टी. भोपाल अपनी प्रभावशाली शैक्षणिक और शोध क्रियाकलापों के संयोजन से आकर्षक महाविद्यालयीन वातावरण निर्मित करता है। छात्र, शिक्षकों के मार्गदर्शन में हर स्तर पर यह उत्तम संयोजन बनाये रखते हैं और संस्थान को ज्ञान और नवीनता की पराकाष्ठा तक पहुँचने में सहयोग करते हैं।

भारत में तकनीकी शिक्षा की महान रूपरेखा की अवधारणा और उसका राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (एन. आई. टी.) के रूप में सत्य–जीवंत क्रियान्वयन स्वतंत्र भारत में इस स्वप्न के विकसित होने का प्रमाण है। मौलाना आज़ाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, भोपाल आशा करता है कि यह राष्ट्रीय स्तर पर अपना प्रभुत्व बनाये रखेगा।